Monday, April 11, 2016

Wo Tum Ho

ख़ुदा ने जो एक बख़्शी है राहत वो तुम हो 
भीड़ में एक सांस जो आजाये वो तुम हो 
रब्ब से करी थी जो अरदास वो तुम हो 
इश्क़ हो तुम, मेरा होना जो है वो तुम हो 
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...